संकारक (Operator) Maths || Operator Mathematics || Sankarak Maths || Sankarak Mathematics || Maths Solution || Maths Guru || Ncert Solution

संकारक (Operator) Maths || Operator Mathematics || Sankarak Maths || Sankarak Mathematics || Maths Solution || Maths Guru || Ncert Solution



संकारक (Operator)

संकारक (Operator) :-

संकारक की परिभाषा (Defination Of Operator) :-

            क्वांटम यांत्रिकी की अवधारणा के अनुसार प्रत्येक क्वांटम अवस्था बहुत सी उपअवस्थाओं का रेखिक संयोजन होती है। 

               जैसे कि एक छात्र ( अवस्था ) में भिन्न - भिन्न गुण अलग - अलग अनुपातों में हो सकते है, वह पढने में बहुत होशियार हो सकता  है, पढाई के साथ - साथ उसे संगीत की जानकारी भी हो सकती है, वह एक अच्छा खिलाड़ी भी हो सकता है आदि।

छात्र के यह सभी गुण विभिन्न अवस्थाओं को प्रदर्शित करते है।

           अब यदि हम यह भी जानना चाहे कि छात्र पढने में कितना होशियार है, तो उसकी विभिन्न विषयों की परीक्षा लेनी होगी। इस परीक्षा से प्राप्त अंक ही उसकी कक्षा में होशियारी या कक्षा में स्थान का निर्धारण करेंगे।

               इस प्रकार छात्र की परीक्षा एक संकारक है, जिसकी संक्रिया के द्वारा छात्र की किसी भी उपअवस्था का ज्ञान व उसकी मात्रा का निर्धारण किया जा सकता है।

              संकारक के संकेत के लिये अक्षर पर कैरेट ( ^ ) अर्थात काकपद या लोप चिह्न का उपयोग करते है।